Sat. Jan 25th, 2020

संत के आश्रम की जमीन के बनाए फर्जी दस्तावेज, धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज

1 min read

सोनी चौहान
हरिद्वार के एक संत के आश्रम की जमीन के फर्जी दस्तावेज बनाने के मामले में तीन लोगों पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस इस प्रकरण की विवेचना करने में जुट गई है। मामला कनखल क्षेत्र का है।
30 दिसंबर 2019 को स्वामी महेश्वरानंद शिष्य प्रकाशानंद निवासी सरस्वती आश्रम दत्त कुटी थाना कनखल हरिद्वार ने कनखल थाने में तहरीर दी। स्वामी ने तहरीर में बताया कि उन्होंने अपनी एक जमीन जो कि आरके मिशन रोड़ पर स्थित है। उस जमीन को एक करोड़ पचास लाख में नवीन अग्रवाल पुत्र ओमप्रकाश, गुंजन अग्रवाल पत्नी नवीन अग्रवाल निवासी गंगा टॉकीज बड़ा बाजार थाना कोतवाली हरिद्वार, अनीश अरोड़ा पुत्र राजकुमार अरोड़ा निवासी गंगा प्रसाद की हवेली विष्णु घाट कनखल हरिद्वार को बेचना तय किया था। पीड़ित ने भूमि का सौदा एक करोड़ पचास लाख रुपए में तय किया था। जिसमें से बयाने के तौर पर 16 लाख रुपए नगद प्राप्त हो गये थे। इकरारनामा में रजिस्ट्री की तिथि नियत की गई थी। काफी समय तक प्रतिवादी ने वादी से कोई संपर्क नहीं किया। अपराधियों ने मुनाफा कमाने के लिए षडयंत्र कर नकली दस्तावेज तैयार कियें और उसमें लिखवाया कि उनके द्वारा जमीन के सारे पैसे एक करोड़ पंचास लाख रुपए पीडित को ​दे दिये हैै। और उन दस्तावेजों पर पीडित के फर्जी हस्ताक्षर कर दिये। धोखाधड़ी करके पीडित की संपत्ति को हड़पने का प्रयास किया गया। धोखाधड़ी करने के जुर्म में तीनों अपराधियों के खिलाफ कनखल थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। थाना प्रभारी हरिओम राज चौहान ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है। हस्ताक्षर को तस्दीक कराया जायेगा।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!