Mon. Oct 21st, 2019

निशंक बोले नई शिक्षा नीति में सभी भाषाओं का सम्मानए सांसदों के सुझाव आमंत्रित

1 min read

सोनी चौहान
केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि नई शिक्षा नीति में सभी भाषाओं का सम्मान किया जायेगा। वर्तमान शिक्षा व्यवस्था में हर हाल में आमूल चूल बदलाव होगा। उन्होंने कहा कि मातृ भाषा का सम्मान किए बिना कोई भी देश तरक्की नहीं कर सकता। इस सम्बन्ध में भ्रम फैलाने की आलोचना करते हुए कहा कि नई शिक्षा नीति में सभी भारतीय भाषाओं को हर कीमत पर सशक्त बनाया जाएगा। इसमें किसी भी क्षेत्रीय या भारतीय भाषा को कमतर करने की कोई कोशिश नहीं की जाएगी। चाहे तमिल हो या उर्दूए मलयालम या कोई अन्य भाषाए छात्रों के लिये अपने मातृभाषा के माध्यम से सहज रूप से अध्ययन करने का मार्ग प्रशस्त किया जाएगा। त्रिस्तरीय शिक्षा व्यवस्था में हिन्दी को अनिवार्य बनाए जाने संबंधी ओवैसी के सवाल के जवाब में निशंक ने उन्हें मसौदा पढ़ने और सुझाव देने की नसीहत दी। निशंक ने कहा कि नई नीति के लिए अभी मसौदा को सार्वजनिक कर सुझाव मांगे गए हैं। सभी सुझावों को आमंत्रित किया गया है। सुझावों पर चर्चा की जायेगी।

 

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!