Mon. Oct 21st, 2019

क्रॉप ​कटिंग प्रयोग करने पहुंची डीएम स्वाति भदौरिया ने पकड़ ली दराती

1 min read

नवीन चौहान
किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ दिलाने के लिए क्रॉप कटिंग का प्रयोग किया जाता है। क्रॉप कटिंग अर्थात एक निर्धारित खेत को प्लाट बनाकर उसकी होने वाली पैदावार का वजन का सही आंकलन होता है। जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने गोपेश्वर नगर क्षेत्र के पाडुली गांव में गेहूॅ की फसल पर किए जा रहे क्राॅप कटिंग प्रयोग का निरीक्षण किया। उन्होंने खेत में स्वयं भी किसान महिलाओं के साथ गेहूॅ की फसल काटी।
बताते चले कि राजस्व विभाग की टीम ने पाडुली गांव निवासी लक्ष्मण सिंह बिष्ट के गेहूॅ के खेत में 30 वर्गमीटर का प्लाट बनाकर नियमानुसार सीसीई एग्री एप के माध्यम से क्राॅप कटिंग का प्रयोग किया। निर्धारित आकार के प्लाट में गेहूॅ की उपज 11.700 किग्रा बालियों का उत्पादन प्राप्त हुआ। इस दौरान जिलाधिकारी ने खेत का नक्शा, खसरा रजिस्टर आदि भू-अभिलेखों की जाॅच करते हुए काश्तकारों से बोए गए गेहूॅ की बीज के बारे में भी जानकारी ली। जिलाधिकारी ने कहा कि क्राप कटिंग प्रयोगों के आधार पर ही जिले में फसलों के औसत उपज और उत्पादन के आंकड़े तैयार किये जाते है तथा जिले में हो रहे उत्पादन की सटीक जानकारी हासिल की जाती है। उन्होंने कहा कि इससे किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ मिलेगा। जिलाधिकारी ने किसानों से कृषि एवं अन्य आवश्यक संशाधनों से संबधित समस्याओं एवं चुनौतियों की जानकारी प्राप्त करते हुए उनके समाधान हेतु सुझाव भी दिये। क्राॅप कटिंग के दौरान अपर सांख्यिकीय अधिकारी भुवन चन्द्र सिंह बिष्ट, राजस्व उप निरीक्षक मोहन लाल, बजाज इन्स्यूरेन्स कंपनी के अनसूया सिंह, कृषक लक्ष्मण सिंह बिष्ट आदि मौजूद थेे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!