Sat. Jan 25th, 2020

डीएफओ आकाश वर्मा ने किसानों की फसलों को हाथियों से सुरक्षित बनाने के लिए कवायद की शुरू

1 min read

नवीन चौहान
डीएफओ आकाश वर्मा ने किसानों की फसलों को हाथियों से सुरक्षित बनाने के लिए कवायद शुरू की है। उन्होंने पश्चिमी तट गंगा किनारे पर डीसी पल्सरिंग बिजली की बाड़ कराई है। जिसके चलते वन क्षेत्र से विचरण करते हुए खेतों की तरफ नहीं जा पायेंगे और फसलों की क्षति नही कर पायेंगे। हालांकि कैमरा ट्रैप में हाथी खेतों की तरफ जाते हुए दिखाई तो दिए। लेकिन बाड़ को पार नही कर पाए।
हरिद्वार से सटे गांव मिस्सरपुर, कटारपुर के ग्रामीणों की फसलों को वन क्षेत्रों के हाथी नुकसान पहुंचाते रहे है। किसान हाथियों से बहुत परेशान रहते है। हाथी उनकी तमाम फसलों को खराब कर देते है। जिसकी शिकायत कई बार किसानों ने वन विभाग से की है। ग्रामीणों और किसानों की इसी शिकायत का संज्ञान लेते हुए डीएफओ आकाश वर्मा ने डीसी पल्सरिंग डीसी बिजली की बाड़ कराने की योजना बनाई। जिसके चलते हाथियों को खेतों की तरफ जाने से रोका जा सके। वन विभाग ने पहल शुरू की और बिजली की बाड़ को मातृ सदन के पास से हरिद्वार रेंज में कुंडी तक, और कुंडी से लक्सर रेंज में तिलकपुरी तक (कुल लगभग 24 किमी) में रखा गया है। जब ताड़ बाड़ का कार्य पूरा हुआ तो इसके आश्चर्यजनक परिणाम दिखाई दिए। हाथियों को खेतों की तरफ जाने से रोकने में वन विभाग को सफलता मिल पाई। कैमरे में कैद तस्वीरों में हाथी काफी प्रयास करते तो दिखाई दिए लेकिन वन विभाग की योजना को फेल नही कर पाए। वन विभाग की इस पहल का मिस्सरपुर के ग्रामीणों से स्वागत किया है। बताते चले कि बीते दिनों हाथियों ने ग्रामीणों पर हमला भी किया था। जिसके चलते ग्रामीण काफी परेशान दिखाई दिए। लेकिन डीएफओ आकाश वर्मा की संजीदगी के चलते ग्रामीणों को इस समस्या से तो निजात मिल गई। लेकिन असामाजिक तत्वों के तार बाड़ को तोड़ने में अभी कामयाबी नही मिल पाई। कुछ लोगों ने तार बाड़ को तोड़ने का प्रयास किया है। वन विभाग की टीम ऐसे लोगों पर नजर बनाए हुए है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!