Tue. Aug 20th, 2019

दिवाकर भट्ट बने उक्रांद के केंद्रीय अध्यक्ष

1 min read

बिंदु दीवान
उत्तराखण्ड क्रांति दल के हरिद्वार में आयोजित द्विवार्षिक महाविधेशन के समापन पर फील्ड मार्शल दिवाकर भट्ट को सर्वसम्मति से दल का केंद्रीय अध्यक्ष चुना गया। पूर्व विधायक काशी सिंह ऐरी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि उक्रांद ही राज्य की मूल अवधारणा के अनुरूप राज्य का विकास कर सकता है। उन्होंने कहा कि अनेकों बलिदानों के बाद मिले राज्य का 18 वर्ष बीत जाने के बावजूद आंदोलनकारियों की भावनाओं के अनुरूप विकास नहीं हो सका। अलग राज्य बनने के बाद भी रोजगार की तलाश में युवाओं का पलायन लगातार जारी है। गांव के गांव युवाओं से खाली हो चुके हैं। भाजपा कांग्रेस सत्ता का दुरूपयोग करती रही। आम जनमानस की समस्याओं का कोई समाधान दोनों दल नहीं कर पाए। उन्होंने कहा कि यूकेडी को पूरे प्रदेश में मजबूती प्रदान करने के लिए वृहद स्तर से सदस्यता अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता भाजपा की नाकामियों को घर घर प्रचारित प्रसारित करें। काशी सिंह ऐरी ने दल के नए अध्यक्ष दिवाकर भट्ट को शुभकामनाएं भी दी। पूर्व अध्यक्ष त्रिवेंद्र सिंह पंवार ने कहा कि प्रत्येक मोर्चे पर विफल रहीं प्रदेश सरकार अपनी नाकामियों को छुपाने में लगी हुई है। देवभूमि के स्वरूप को बिगाड़ा जा रहा है। जल, जंगल, जमीन उजाड़े जा रहे हैं। पर्वतीय क्षेत्रों का विकास नहीं हो पा रहा है। जिन कारणों से लगातार पर्वतीय क्षेत्रों से पलायन जारी है। उन्होंने कहा कि यूकेडी के संस्थापक अध्यक्ष स्व.डीडी पंत ने शिक्षा को लेकर अनेकों प्रयास किए। उनके बताए हुए मार्गो का अनुसरण कर प्रदेश के विकास में अपना योगदान दें। प्रदेश में किसानों की हालत बद से बदतर हो रही है। किसानों को मुआवजे के नाम पर छलने का काम किया जा रहा है। आंदोलनकारियों के सपनों के अनुरूप प्रदेश का विकास नहीं हो पाया। पूरे प्रदेश में माफियाराज हावी है। केंद्रीय अध्यक्ष दिवाकर भट्ट ने वरिष्ठ पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि कार्यकर्ताओं के सहयोग से प्रदेश की राजनीति में उक्रांद को मुख्य विकल्प के रूप में स्थापित किया जाएगा। प्रदेश सरकार की नाकामियों के खिलाफ जल्द ही बड़ा आंदोलन भी शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य में शराब पूर्ण रूप से प्रतिबंधित होनी चाहिए। गैरसैंण को प्रदेश की स्थायी राजधानी घोषित की जाए। ऊर्जा प्रदेश में प्रदेशवासियों के लिए बिजली, पानी निःशुल्क उपलब्ध कराया जाए। बेरोजगार युवाओं को भत्ता मिलना चाहिए। संविदा कर्मचारियों का नियमितिकरण राज्य सरकार को करना चाहिए। निजी खेती में चुगान की अनुमति भी उत्तराखण्ड वासियों को मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों में अभी से जुट जाएं। पूर्व अध्यक्ष नारायण सिंह जंतवाल और पुष्पेश त्रिपाठी ने कहा कि बारी बारी से प्रदेश की सत्ता संभाल रही भाजपा व कांग्रेस जनकांक्षाओं को पूरा करने में पूरी तरह नाकाम सिद्ध हुई हैं। प्रदेश में अफसरशाही व माफिया हावी हैं। शराब फैक्ट्री लगाने की अनुमति देकर देवभूमि की मान मर्यादा को ताक पर रखा जा रहा है। प्रदेश का युवा आज भी रोजगार की तलाश में दूसरे प्रदेशों का रूख करने को मजबूर हैं। प्रदेश के सुदूरवर्ती इलाकों में आज भी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध नहीं है। जिला अध्यक्ष राकेश राजपूत ने दिवाकर भट्ट को केंद्रीय अध्यक्ष बनने की बधाई देते हुए कहा कि यूकेडी ही प्रदेश की जनता की आवाज बन सकता है। युवा वर्ग पार्टी की विचारधाराओं से प्रभावित होकर दल से जुड़ रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार निर्धन परिवारों तक योजनाओं का लाभ नहीं पहुंचा पा रही है। राकेश राजपूत ने कहा कि सब्सिडी नहीं सस्ते राशन की आवश्यकता है। नशा नहीं रोजगार मिलना चाहिए। मलिन बस्तियों को मालिकाना हक अतिशीघ्र दिया जाए। किसानों का ऋण माफ किया जाए। उन्होंने उन शहीदों को नमन करते हुए कहा कि जिन शहीदों ने उत्तराखण्ड को अस्तित्व में लाया। उन शहीदों के सपनों के अनुरूप प्रदेश का विकास होना चाहिए। स्वास्थ्य सेवा देने में प्रदेश सरकार पूरी तरह से विफल हो चुकी है। प्रदेश भर में चिकित्सकों की भारी कमी है। जिससे लोग निजी अस्पतालों में महंगा इलाज कराने को मजबूर हैं। राकेश राजपूत ने कहा कि प्रदेश में आपदा से जानमाल का भारी नुकसान हो रहा है। पर्वतीय क्षेत्रों का सही विकास नही होने की वजह से समस्याएं बढ़ रही है। किसान बाहुल्य हरिद्वार जनपद में किसानों की समस्याओं का कोई समाधान नहीं हो रहा है। द्विवार्षिक अधिवेशन में केंद्रीय अध्यक्ष चुने जाने पर कार्यकर्ताओं ने दिवाकर भट्ट का फूलमालाएं पहनाकर जोरदार स्वागत किया। इस अवसर पर डीके पाल, एमडी शर्मा, जयप्रकाश उपाध्याय, हरिशंकर उपाध्याय, संजय कुमार चौहान, रविन्द्र वशिष्ठ किशन रावत, डीडी जोशी, प्रदीप कुमार उपाध्याय, सुशील उनियाल, ब्रजवीर सिंह, राजीव देशवाल, दीपक गोनियाल, जयंत अमोली, सरिता पुरोहित, रेखा आदि सहित प्रदेश भर से आए कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!