Mon. Dec 16th, 2019

चमोली डीएम स्वाति भदौरिया ने जमीन पर बैठकर खाया मिड—डे मील

1 min read

नवीन चौहान
डीएम स्वाति एस भदौरिया की सादगी और कर्तव्यपरायणता जनता का दिल जीत रही है। जनता के किसी भी कार्य को पूरी संजीदगी से करना और उनकी समस्याओं का तत्काल निस्तारण कराने की उनकी खूबी क्षेत्र में चर्चाओं का विषय बन रही है। चारधाम यात्रा मार्गो की व्यवस्थाओं को दुरस्त कराना हो या बारिश में आपदा की स्थिति में विषम परिस्थितियों में पीड़ितों को राहत पहुंचाने में भी उन्होंने महती भूमिका निभाई। लेकिन जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने घिंघराण स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय एवं माॅडल आंगनबाडी केन्द्र देवर खडोरा का औचक निरीक्षण करने के दौरान बच्चों के साथ जमीन पर बैठकर मिड डे मील में बना खाना खाकर जनता में एक विश्वास की अलख जगाई है।


प्राथमिक विद्यालय और माॅडल आंगनबाडी केन्द्र देवर खडोरा के बच्चे हर रोज की तरह मिड डे मील में बना खाना खा रहे थे, लेकिन बुधवार का दिन उनके लिए कुछ खास रहा जब चमोली की जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने भी जमीन में विछाई दरी पर बैठकर बच्चों के साथ मिड डे मील में बना खाना खाया। दरअसल डीएम बच्चों को खिलाए जा रहे मिड डे मील की गुणवत्ता को परखना चाह रहे थे। इस दौरान उन्होंने भोजन माता को बच्चों के भोजन में मिर्च कम रखने, सुरक्षित और पौष्टिक भोजन देने की बात कही।
जिलाधिकारी ने माॅडल आंगनबाडी केन्द्र देवर खडोरा में बच्चों को दी जारी शिक्षा एवं अन्य व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया। उन्होंने बच्चों से विभिन्न रंगों, आकृतियों के बारे में पूछते हुए बच्चों को दी जा रही शिक्षा की गुणवत्ता की परख की। इस दौरान बच्चों ने कविताएं भी सुनाई। जिलाधिकारी ने आंगनबाडी कार्यकत्री को कागज की विभिन्न आकृतियां तथा खेलों के माध्यम से बच्चों को व्यावहारिक शिक्षा देने को कहा।
जिलाधिकारी की पहल पर बचपन प्रोजेक्ट के तहत जनपद में संचालित आंगनबाडी केन्द्रों में सभी सुविधाएं मुहैया कर माॅडल के रूप में तैयार किया जा रहा है। नौनिहालों के सर्वागीण विकास के लिए अभी तक 90 आंगनबाडी केन्द्रों को माॅडल बनाया जा चुका है। इन आंगनबाडी केन्द्रों में आडियो किट, लर्निंग मटीरियल, पंचतत्र व महान व्यक्तियों की कहानियां, प्रोजेक्टर, लैपटाॅप, हाईजिन किट, फस्टएड किट, फिसल पट्टी, दर्री, टेवल, चीयर, गुढढा-गुढढी बोर्ड, वाटर फिल्टर, गैस कनेक्शन, खेलकूद तथा लम्बाई और वजन मापने के लिए आवश्यक सामग्री देकर माॅडल के रूप में तैयार किया जा चुका है। माॅडल आंगनबाडी केन्द्रों को सुन्दर व आकर्षक बनाने के लिए संदेशपरक वाॅल पेंन्टिग भी कराई जा रही हैं।
इस अवसर पर खंड शिक्षा अधिकारी दर्शन लाल टम्टा, डीपीओ संदीप कुमार, आंगनबाडी सुपरवाइजर राधिका लोहिनी, सहायिका यशोदा देवी, आंगबाडी कार्यकत्री सत्येश्वरी देवी आदि मौजूद थे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!